Tareef Shayari 2022

Tareef Shayari – दोस्तों दुनिया मैं लगभग सभी किसी न किसी की Tareef करते हैं चाहे वो Ladkiyon Ke Husn लड़कियों के हुस्न की ही क्यों न हो. आज हमारा ये पोस्ट उन Khubsurat Ladkiyon के लिए हैं जो अपनी तारीफ सुना पसंद करते हैं और अगर हम उनके Husn या Khubsurti Ki Tareef Shayari करते हैं तो उन्हें बहुत अच्छा लगता हैं इसिलय आज हम आपकी Girlfriend और Wife के लिए दुनिया भर से Best Husn Shayari With Images के साथ लाये हैं ताकि आप अपनी Wife और Girlfiend Ki Tareef Shayari कर सके वो भी शायरी की सहायता से, यहाँ आपको Husn Shayari In Hindi For Girlfriend, Husn Shayari For Wife in Hindi With Image के साथ Share करे. Ladkiyon Ki Khubsurti Ki Shayari और Beautiful Shayari For Girlfriend, Husn Shayari For Girlfriend, Husn Shayari For GF, Beaitiful Wife Shayri जैसी Best Shayari On Eyes देखने को मिलेगी।

Tareef Shayari – HumariShayari.Com रोज़ आपके लिए बेस्ट शायरी लता है, जिसे आप खूब पसंद करते हैं, आज के इस Husn Shayari In Urdu, Husn Shayari Ghalib In Hindi के साथ Download करके अपने Whatsapp Status और Facebook Story पर Share करे. निचे आपको Tera Husn Shayari, Two Line Husn Shayari और 2 Line Husn Shayari Images, Tareef Status In Hindi, Tareef Quotes In Hindi For Girl, Husn Quotes In Hindi For Girl, Husn Status In Hindi For Girlfriend, Tareef Messages In Hindi, Husn Messages Hindi, Tareef Shayari For Crush, Tarif Shayari For GF, Love Tarif Shayari को शेयर करे. Beautiful Shayari

Tareef Shayari 2022

Tareef Shayari

तेरे हुस्न की तारीफ मेरी शायरी के बस की नहीं,तुझ जैसी कोई और कायनात में बनी ही नहीं।

मुझे क्या मालूम था हुस्न क्या होता हैमेरी नज़रों ने तुझे देखा और अंदाजा हो गया.

अब हम समझे तेरे चेहरे पे तिल का मतलब।हुस्न की दौलत पे दरबान बिठा रखा है।

बन गया दीवाना तेरी बातों बातों में,गिर गया दिल तेरी प्यार में,कि इतना खूबसूरत हैं तू,की मेह खुदको रुख नहीं पता हु.

ढाया खुदा ने ज़ुल्म हम दोनों पर, तुम्हें ‘हुस्न’ और मुझे ‘इश्क’ देकर !…..
लहराती जुल्फे,कजरारे नयन,और ये रसीले होठ बस कत्ल बाकी है औज़ार तो पूरे है।

Tareef Shayari 2022

हमें कहाँ मालूम था तेरे चेहरे के तिल का राज़,किसी ने बताया के हुस्न का पहरेदार है ये.

हुस्न हर बार शरारत में पहल करता है। बात बढती है तो इश्क के सर आती है।।
पिता हूँ हर दिन सराब, तेरी यादो में,तेरी खूबसूरती ने,कर दिया पागल मुझे,इतना तारीफ करता हु की,छोड़ नेकी मन नहीं करता है तुझे.

गए थे उनके हुस्न को बेनकाब करने, खुद उनके इश्क का नकाब पहनकर आ गए…

Tareef Shayari In Hindi

Tareef Shayari

Husn Status In Hindi For Girlfriend Images
Husn Status In Hindi For Girlfriend Images
उसके चहेरे की चमक के सामने सादा लगा, आसमा पे चांद पूरा था मगर आधा लगा।
ना कर जिद दीवाने हुस्न को बेपर्दा तकने की। हया जो फैलेगी रूखसार पर ,जान लेवा होगी।।
पीये है हम हज़ारो जाम,लेकिन तेरी हुस्न की नशा कुछ और ही है,देखे है हमने हजारो जलबे,पर तेरी ये अदा कुछ और ही है…

जो न मानो तो फिर तोल लेना तराजू के पलड़ों पर, तुम्हारे हुस्न से कई ज्यादा मेरा इश्क भारी है।
हुस्न वालो को सँवरने की ज़रूरत क्या है,वो तो सादगी में भी कयामत की अदा रखते है।

Tareef Shayari 2022

फूलों सा कोमल चेहरा तेरा, तू संगमरमर की मूरत हैतेरे हुस्न की क्या तारीफ़ करूँ, तू इतनी खूबसूरत है

हुस्न वालों ने क्या कभी की खता कुछ भी। ये तो हम हैं सर इल्ज़ाम लिए फिरते हैं।।
बन गया दीवाना तेरी ,तारीफ करते करते,इतनी खूबसूरती से न देख मुझे,की तेरी हुस्न की तारीफ करते करते मर जाऊंगा में.

मुझको मालूम नहीं हुस्न की तारीफ फ़राज़, मेरी नज़रों में हसीन वो है जो तुझ जैसा हो!
हर बार हम पर इल्ज़ाम लगा देते हो मोहब्बत का,कभी खुद से भी पूछा है इतनी खूबसूरत क्यों हो!

Tareef Status In Hindi

Tareef Shayari

Tareef Status In Hindi For Girls Images
Tareef Status In Hindi For Girls Images
हटाये नहीं है तो ये नज़रें तेरे चेहरे से हुज़ूर,हम तेरे कायल है और तुझे है हुस्न का गुरुर..

मुझको मालूम नहीं हुस्न की तारीफ फ़राज़। मेरी नज़रों में हसीन वो है जो तुझ जैसा हो।।
लगते हो खूबसूरत,गुस्से में तुम,थाम जाये ये पल,क्युकी प्यारी लगते हो तुम.

हुस्न हर बार शरारत में पहल करता है , बात बढती है तोह इश्क के सर आती है……….
तने खूबसूरत है वो कि आधार कार्ड में भी,उनकी खूबसूरती दिखती है।

Tareef Shayari 2022

डरता हूँ कहीं लग न जाए तेरे हुस्न को मेरी नज़र,इस लिए अभी तक तुझे गौर से देखा ही नहीं..

कहाँ तक जफा हुस्न वालों के सहते। जवानी जो रहती तो फिर हम न रहते।।
दे मुझको तेरी तस्बीर,दिल में बसाके राखु,दूर मत जा इतना,की खुधको रोख न साकू।

लोग समझते हैं के मैं तुम्हारे हुस्न पर मरता हूँ.. अगर तुम भी यही समझते हो तो सुनो..
जब हुस्न खो दो तब लौट आना…
इस डर से कभी गौर से देखा नहीं तुझको​,​कहते हैं कि लग जाती है अपनों की नज़र भी​।