Shayari On Eyes 2022

Shayari On Eyes – Best Shayari के लिए HumariShayari.Com पर रोज़ आये और अपने पसंद की शायरी को शेयर करे, Aankhein Shayari In Hndi With Images के साथ देखने को मिलेगी और Shayari on Eyes शायरी ों आईज इन हिंदी फॉर व्हाट्सप्प के लिए बेहतरीन शायरी डाली हैं ताकि आप अपनी Girlfriend की Aankhon की तारीफ कर सके और उसे I Love You कह सके और मैंने आपके लिए पहले भी Aankhon Shayari और Eyes Shayari In Hindi मैं डाली शायरी उसे भी देखे और नई Aankhein Shayari in Hindi, Beautiful Nigah Shayari, Najar Shayari in Hindi, Nazar Shayari In Urdu मैं देखने को हैं जल्दी से अपने पसंद की शायरी को अपनी दोस्तों और रिश्ते डरो को शेयर करे उनके Whatsapp Status और Facebook और Instagram पर भी।

Shayari On Eyes – निचे आपको Latest Aankhein Shayari, Beautiful Nashilu Shayari Hindi और Eyes Shayari In English Language Font Text के साथ और Aankhon Shayari Collection, Romantic Shayari On Eyes, Sad Shayari On Eyes Hindi मैं और Love Shayari On Eyes जैसी Bet Eyes Shayari हैं. Shayari On Eyes For Lovers, Wife, Girlfriend Eyes Shayari, Boyfriend, Husband। Eyes Shayari For Friend Hindi Image, Shayari Status On Eyes, Eyes Quotes in Hindi, Eyes Shayari Messages, Eyes SMS Pictures, Eyes Shayari Photo Download Free मैं करे और शेयर करे. Also Check Eyes Shayari

Shayari On Eyes

Shayari On Eyes

खुलते हैं मुझ पे राज कई इस जहान के,उसकी हसीन आँखों में जब झाँकता हूँ मैं।

नशीली आँखों से वो जब हमें देखते हैं,हम घबरा कर आँखें झुका लेते हैं,कौन मिलाये उन आँखों से आँखें,सुना है वो आँखों से अपना बना लेते हैं।

सागर से गहरी हैं आपकी आँखेंदिल की खुशी है आपकी आँखेंप्यार का जाम हैं आपकी आँखेंछुपाए कई राज़ हैं आपकी आँखेंले लेंगी मेरी जान आपकी आँखें

जो वो आँखों में आया कौन उसको देख सकता था,क़सम आँखों की हम उसको छुपाते अपनी आँखों से।

इश्क के फूल खिलते हैं तेरी खूबसूरत आँखों में,जहाँ देखे तू एक नजर वहाँ खुशबू बिखर जाए..

Shayari On Eyes

तुम मेरी रूह में न समाते तो भूल जाती तुम्हेतुम इतने पास न आते तो भूल जाती तुम्हेतुम्हे भूलने की सोच कर ही भीग जाती हैआँखें मेरी आँख में आँसू न आते तो भूल जाती तुम्हे।।

जाती है इस झील की गहराई कहाँ तक,आँखों में तेरी डूब के देखेंगे किसी रोज।

जीना मुहाल कर रखा है मेरी इन आँखों ने,खुली हो तो तलाश तेरी बंद हो तो ख्वाब तेरे।

ज़फ़र गिरिया हमारा कुछ-न-कुछ तासीर रखता है,उन्‍हें हम देखते हैं मुस्कुराते अपनी आँखों से।

जब भी देखूं तो नज़रें चुरा लेती है वो,मैंने कागज़ पर भी बना के देखी हैं आँखें उसकी…

Best Eyes Shayari In Hindi

Shayari On Eyes 2022

Beautiful Shayari On Eyes Images
Beautiful Shayari On Eyes Images
जब खयाल आया तो खयाल भी उनका आयाजब आँखें बंद की तो ख्वाब भी उनका आयासोचा याद कर लूँ किसी और कोमगर होठ खुले तो नाम भी उनका आया।।

निगाहों से कत्ल कर दे न हो तकलीफ दोनों को,तुझे खंजर उठाने की मुझे गर्दन झुकाने की।

क्या कशिश थी उस की आँखों में मत पूछो.मुझ से मेरा दिल लड़ पड़ा मुझे यही चाहिये?

इश्क के फूल खिलते हैं तेरी खूबसूरत आँखों में,जहाँ देखे तू एक नजर वहाँ खुशबू बिखर जाए।

अगर कुछ सीखना ही है,तो आँखों को पढ़ना सीख लो,​वरना ​लफ़्ज़ों के मतलब तो,​हजारों निकाल लेते है.

Shayari On Eyes

कुछ मिला कुछ मिलते-मिलते छुट गया,शायद सपना था आँख खुलते ही टूट गया..!!

तेरी आँखों की तौहीन नहीं तो और क्या है यह,मैंने देखा तेरे चाहने वाले कल शराब पी रहे थे।

तेरी आँखों के जादू सेतू ख़ुद नहीं है वाकिफ़ये उसे भी जीना सिखा देती हैंजिसे मरने का शौक़ हो।

देखा है मेरी नजरों ने एक रंग छलकते पैमाने का,यूँ खुलती है आँख किसी की जैसे खुले दर मैखाने का।

मैं डर रहा हूँ तुम्हारी नशीली आँखों सेके लूट लें न किसी रोज़ कुछ पीला के मुझे.

Beautiful Shayari On Eyes

Shayari On Eyes

Urdu Shayari On Eyes Pictures
Urdu Shayari On Eyes Pictures
कभी कभी मेरी आँखे यू ही रो पडती है।मै इनको कैसे समझाऊँ कि कोई,शक्स चाहने से अपना नही होता।

जाने क्यों डूब जाता हूँ हर बार इन्हें देख कर,इक दरिया हैं या पूरा समंदर हैं तेरी आँखें।

आपने नजर से नजर जब मिला दी,हमारी ज़िन्दगी झूमकर मुस्कुरा दी,जुबां से तो हम कुछ भी न कह सके,पर आँखों ने दिल की कहानी सुना दी।

महफिल अजीब है, ना ये मंजर अजीब है,जो उसने चलाया वो खंजर अजीब है,ना डूबने देता है, ना उबरने देता है,उसकी आँखों का वो समंदर अजीब है.

आँखों में तेरी डूब जाने को दिल चाहता है!इश्क में तेरे बर्बाद होने को दिल चाहता है!कोई संभाले मुझे, बहक रहे है मेरे कदम!वफ़ा में तेरी मर जाने को दिल चाहता है!

Shayari On Eyes

उठती नहीं है आँख किसी और की तरफ,पाबन्द कर गयी है किसी की नजर मुझे,ईमान की तो ये है कि ईमान अब कहाँ,काफ़िर बना गई तेरी काफ़िर-नज़र मुझे।

अब तक मेरी यादों से मिटाए नहीं मिटता,भीगी हुई इक शाम का मंज़र तेरी आँखें।

बैठा के कभी सामने पूछेंगे तेरी आँखों से,किसने सिखाया है इन्हें हर दिल में उतर जाना.

चहरे पर हंसी छा जाती है!आँखों में सुरूर आ जाता हैजब तुम मुझे अपना कहते हो,अपने पर गुरुर आ जाता है!

इश्क के फूल खिलते हैं तेरी खूबसूरत आँखों में,जहाँ देखे तू एक नजर वहाँ खुशबू बिखर जाए।