Dhoka Shayari 2022

Dhoka Shayari – दोस्तों Pyar और Mohabbat ये शब्द सुने मैं बड़े अच्छे लगते हैं, पर जब Pyar Me Dhoka Shayari मिलता और Bewafai Shayari मिलती हैं तो हमे बहुत Dukh Shayari होता हैं और Dil Dard Shayari दिल मैं दर्द होता हैं, प्यार करना तो बहुत आसान होता है पर प्यार को निभाना बहुत ही मुश्किल होता हैं प्यार सभी को निभाने मैं बहुत टाइम लगता हैं आज मैंने उन भाइयो के लिए ये Dhoka Shayari In Hindi With Images के साथ डाली हैं ताकि आप प्यार मैं मिले धोके हो भुला सके. Dil Ke Dard Shayari को काम करने के लिए आपको ये शायरी की जरुरत पड़ेगी। यहाँ Dhokebaaz Shayari For Lover In Hindi को हम अपने Whatsapp Status और Facebook पर Share करे ताकि आपको Dil Ka Dard Shayari को शेयर करे. Dardnak Shayari

Dhoka Shayari – जब हम किसी से प्यार करते हैं और हम उसे दिल और जान से बहुत प्यार करते हैं पर वो इन्शान हमे धोका देता हैं और हमे Dhokebaaz कहने पर मज़बूर कर देता हैं, इसिलय ये Dhoka Status In Hindi, Two Lines Dhoka Shayari, 2 Line Dhoka Shayari Images को Download करे और अपनी Girlfriend को शेयर करे. और अपने दिल के दर्द को हल्का करे. Dhoke Dene Wali Shayari, Pyar Me Dhoka Shayari Hindi Me, Love Dhoka Shayari. Dosti Me Dhoka Shayari, Dosti Mein Dhoka Shayari For Status DP.

Dhoka Shayari

Dhoka Shayari

बच तो गया हूँ मोहब्बत के हादसे से,मगर ज़िंदा नहीं हूँ उनके फासले से.

खूब देखे होंगे आंसू ख़ुशी के तुमनेकभी मिलो हमसे ,तुम्हे गम के हसी दिखाएंगे

Time Pass
कितना मस्त शब्द है ना वैसे
एक को ख़ुशी मिलती है
दूसरे को बुरा लगता है
अंत में एक दूसरे को खोकर दोनों रोते हैं।
कुछ लुटकर, कुछ लूटाकर लौट आया हूँ,वफ़ा की उम्मीद में धोखा खाकर लौट आया हूँ |अब तुम याद भी आओगी, फिर भी न पाओगी,हसते लबों से ऐसे सारे ग़म छुपाकर लौट आया हूँ

तेरी यादों के नशे में हूँअब सब भूल रहा हूँबस तुझे ही लिखता रहता हूँऔर मशहूर हो रहा हूँ।

ताउम्र तुम्हे था दिल से चाहा,मगर बरसात में भीगे कागज़ की तरह,तुम्हे समझ ना पाया।

Dhoka Shayari 2022

जब धोखा ही था तुम्हारी मोहब्बत.तो झूठ अपनी लबो को कहने देते.और जब मै सुखी था,मुझे अपने बिना ही रहने देते

मोहब्बत सीखा कर जुड़ा हो गए
न सोचा न समझा खफा हो गए
दुनिया में किसको हम अपना कहे
अगर तुम बेवफा हो गए।
कैसे बयां करू अलफ़ाज़ नहीं हैदर्द का तुझे मेरे अहसास नहीं हैपूछते हो मुझसे क्या दर्द हैमुझे दर्द ये है की तू मेरे पास नहीं है

हम इश्क़ निभाते रहे,वो पीठ पीछे मजाक उड़ाते रहे,जब तक ज़रूरत थी हमारी उन्हें,तब तक साथ होने का ठोंगा दिखातें रहे।

Love Dhoka Shayari

Dhoka Shayari

dhoka shayari hindi image download
dhoka shayari hindi image download
याद कर उन्हें ,गला भर आता हैमगर वक़्त के साथ,दिल का घाव ना भर पाता है।

आशिकी की हद तो देखोधोखा मिलने के बावजूद भीहम उनपे मरते हैं

तेरी बेवफाई का किस्सा जब-जब
याद आएगा, मेरे तन बदन में एक
आग सी भड़कायेगा, जो तूने किया
कोई दुश्मन भी नहीं ऐसा करता
देख लेना एक दिन तू भी बोहत
पछतायेगा।
तेरी दोस्ती ने दिया शकुन इतना की तेरेबाद कोई अच्छा भी न लगेतुझे करनी है बेवफाई तो इस क़दर करनाकी तेरे बाद कोई बेवफा भी न लगे

फिर से उसी शक्श से प्यार की उम्मीद करता है,ऐ दिल तुझें इज्ज़त रास नही आती क्या?

इक भरोसा सिर्फ तुमपे था किया,फिर किसी पे आसानी से ना किया।

सच्चा इश्क किया थातो अब, हम भी बेवफाई के गीत गायेंगेबेवफाई में तेरा नाम न उठेइसलिए हम आसू लेकर हर शहर मुकुरायेंगे

Dhoka Shayari 2022

वो मुझसे ज्यादा चाहेगा इसे कुछ
दिनों में ये भरम टूट जायेगा ,
मैं ज़रूर याद आऊंगा उस बेवफा
को जब उसका साथ बेवजह उस
से रूठ जायेगा।
दर्द इतना था ज़िंदगी में कि धड़कन साथ देने से घबरा गयी!आंखें बंद थी किसी कि याद में और मौत धोखा खा गयी!

बस जीने की कुछ वज़ह होनी चाहिए,वादे ना सही, साथ ना सही,यादे तो होनी चाहिए।

Sad Dhoka Shayari

Dhoka Shayari

shayari for dhoka in hindi
shayari for dhoka in hindi
ना साथ दिया ना साथ छोड़ा,कुछ अलग ही तरह – तुमने अपना मुँह मोड़ा।

किसने कहा दूर होने मेंइश्क की हार हैंजो प्यार पूरा न हुआआखिर वो भी तो प्यार हैं

इंसान सब कुछ भूल जाता है
सिवाए उन लम्हों के जब उसे अपनों
की ज़रूरत थी और वो साथ नहीं थे।
धोखा मिला जब प्यार में ज़िन्दगी मेंउदासी छा गई,सोचा था छोड़ देंगे इस राह कोकम्बख़त मोहल्ले में दूसरी आ गई

दिल हज़ार बार चीखे उसे चिल्लाने दीजिए,जो आपका नही हो सकता उसे जाने दीजिए।

वो भोला-भाला सा चेहरा,दे गया दिल का दर्द गहरा।

माना मेरा प्यार एकतरफा थागुनाह भी मेरा था इसलिए दर्द भी मुझे मिलापर बस इतना बता दे ए खुदाजब वो पहले ही किसी और के थेतो मोहब्बत में बलिदान हम क्यों हुए

Dhoka Shayari 2022

रिश्ते टूट कर चूर चूर हो गए
धीरे धीरे वो हमेसा दूर हो गए
हमारी ख़ामोशी हमारे लिए गुन्हा बन
गयी और वो गुन्हा कर बेकसूर हो गए।
अभी सूरज नहीं डूबा ज़रा शाम होने दोमैं खुद लौट जाउँगा मुझे नाकाम तो होने दोमुझे बदनाम करने का बहाना ढूंढ़ता है ज़मानामैं खुद हो जाऊंगा बदनाम पहले मेरा नाम तो होने दो

भूलने की तुझे हमनें न जाने क्या क्या जुगाङ किये,जिस वक़्त थी तो मेरी ज़िंदगी मे,उस वक़्त के पन्ने भी हमने फाड़ दिये।